"

Ticker

6/recent/ticker-posts

कोहली ने जिसका कैरियर खत्म करना चाहा उस खिलाडिनेही जिताया एशिया कप, india wins ashia cup

कोहली ने जिसका कैरियर खत्म करना चाहा उस खिलाडिनेही जिताया एशिया कप india wins ashia cup



एशिया  कप जिताने  में भारत की तरफ से सबसे महत्वपूर्ण योगदान रविंद्र जडेजा ने दिया। पहले तो उनका टीम में खेलना भी संभव नहीं था। पहले मैच में हार्दिक पांड्या के चोटिल हो जाने के कारण उनको मौका दिया गया, उस मौके का उन्होंने फायदा उठाते हैं बांग्लादेश के खिलाफ 4 विकेट चटकाए और बहुत ही नफ़ीतुली बोलिंग कीI

उस मैच के दौरान वह करीब करीब 15 महीने बाद एकदिवसीय क्रिकेट खेल रहे थे। टेस्ट टेस्ट क्रिकेट में नंबर वन गेंदबाज होने के बावजूद उन्हें वनडे में खिलाया नहीं जाता था। उनके बदले में टीम में शामिल हुए कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल अच्छी बोलिंग करके अपनी टीम में जगह पक्की कर चुके थे। जब कभी भी तीसरे स्पिनर का जरूरत पड़ती तो अक्षर पटेल को टीम में लिया जाता है, लेकिन जडेजा के बारे में सोचा नहीं चाहता था। उनको टेस्ट क्रिकेट में भी अपना पक्का स्थान नहीं दिया जाता था। हार्दिक पांड्या के खराब प्रदर्शन से ही उनको इंग्लैंड में टेस्ट श्रृंखला में टीम में शामिल किया गया। उन्होंने इस मौके का उन्होंने फायदा उठाते हुए गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों क्षेत्र है बहुत अच्छा प्रदर्शन करके सबका दिल जीत लिया। जहां पर भारतीय मैन बल्लेबाज रन्स के लिए तरस रहे थे उस पिच पर उन्होंने अर्धशतक जड़कर अपना लोहा मनवाया। एशिया कप में उनकी टीम में जगह पक्की नहीं थी, लेकिन उनको मौका मिला और बहुत बेहतरीन गेंदबाजी और बल्लेबाजी करके भारत को जीत दिलाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

अफगानिस्तान के खिलाफ भारत की माध्यम क्रम की बल्लेबाजी पूरी तरह फेल हो गई तो वो जड़ेजा थे जिन्होंने पारी को संभाला। यही बात फाइनल में भी देकने को मिली उन्होंने भुवनेश्वर कुमार को साथ लेते हुए एक महत्वपूर्ण भागीदारी की, जिसने भारत की जीत को पक्का कर दिया। जब वो खेलने आए तो महेंद्र सिंह धोनी आउट हो चुके थे और केदार जाधव चोटिल होकर पेवेलियन लौट चुके थे ऐसे में भारत को मैच जीतने के लिए एक ऐसे बल्लेबाज की जरूरत थी जो गेंदबाजों को साथ में लेकर पारी को आगे बढ़ाएं, और यही बात उन्होंने की और  भारत को जीत की ओर ले गए। एशिया कप में उनका क्षेत्ररक्षण भी बहुत अच्छा हुआ। वैसे भी वो बहुत अच्छे क्षेत्ररक्षक है और हमेशा अपने क्षेत्ररक्षण से काफी रन बचाते है। हमेशा पॉइंट पर बेहतरीन खिलाड़ी को क्षेत्ररक्षण के लिए लगाया जाता है और इंडिया के लिए या काम जडेजा ने बखूबी निभाया। उन्होंने बेहतरीन क्षेत्ररक्षण का प्रदर्शन करते हुए श्रृंखला में कई रन आउट किये। 
जिसको टीम में जगह मिलने का कोई संभव नहीं था और जिसको  15 महीने बाद मौका मिला उस खिलाड़ी ने भारत को एशिया कप जीतने में बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।  

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां